जनता जो कुछ सीखती है, वह घटना-क्रम की पाठशाला में सीखती है और दुःख दर्द ही उसका शिक्षक है। - जवाहरलाल नेहरू